वर्डप्रेस क्या है? wordpress.com और wordpress.org में क्या अंतर है?

Share

क्या आप जानते है की वर्डप्रेस क्या है? WordPress के features क्या क्या है? और ये कैसे दुनिया का सबसे पोपुलर वेब ऑपरेटिंग सिस्टम है? या कहे ही सबसे पोपुलर CMS  कैसे है?

इन्टरनेट में वर्डप्रेस से developed website की बात करे तो पुरे इन्टरनेट की website में से 35% website या ब्लॉग वर्डप्रेस cms पर ही based है| यानि की सही शब्दों में कहे तो इन्टरनेट में ज्यादातर website वर्डप्रेस पर ही रन करती है| चाहे वह shopping website हो या फिर एक blog सभी के लिए वर्डप्रेस में ढेरो विकल्प है|

what is wordpress

What Is WordPress

world-wide की ज्यादातर पोपुलर website या ब्लॉग WordPress ऑपरेटिंग सिस्टम का ही उपयोग करती है| इससे आप अंदाजा लगा सकते है की वर्डप्रेस कितना पोपुलर है| वैसे आप इन्टरनेट में सर्च करेंगे तो आपको बहुत से वेब ऑपरेटिंग सिस्टम मिलेंगे| जिनमे WordPress web operating system पहले स्थान पर है और दुसरे स्थान पर Joomla web operating system है| Joomla cms or operating system को पुरे इन्टरनेट पर केवल 3% website ही यूज़ करती है| जबकि वर्डप्रेस को 35% website यूज़ करती है|

वर्डप्रेस क्या है हिंदी में जाने – What is WordPress in Hindi ?

WordPress एक most-popular web operating system है| जिसे Content Management System या CMS भी कहते है| content management system एक प्रकार का WBA application (WBA full form – web based application) होती है जिसका मुख्य कार्य content यानि की text, images, videos, document आदि जरुरी चीजों को web form में मैनेज करना होता है|

WordPress (WP in Hindi) भी एक WBA application है जो पूरी तरह PHP based है| PHP based से यहाँ मतलब है की WordPress CMS PHP programming language द्वारा लिखा या बनाया गया है| साथ ही इसके डेटाबेस को मैनेज करने के लिए MySQL और MariaDB का उपयोग किया गया है|

Read More :

वर्डप्रेस को इसके Founder Matt Mullenweg & Mile Little द्वारा 27 मई सन 2003 को developed किया गया था| WordPress को शुरुवात से ही एक open source application के तौर पर GNU GPLv2+ licence के साथ पर रिलीज़ किया गया था| तब से लेकर आज तक वर्डप्रेस एक पूरी तरह open source application है जिसे आप अपने किसी भी वेब सर्वर पर इनस्टॉल कर वेब प्लेटफार्म का निर्माण कर सकते है|

वर्डप्रेस के प्रकार – Types Of WordPress in Hindi

आपने जब भी इंटरनेट में वर्डप्रेस सर्च किया होगा तो आपको हमेसा तो अलग अलग वर्डप्रेस दिखे होंगे| जिनमे आप हमेसा कंफ्यूज हो जाते होंगे की आखिर ये सब क्या है? क्योकि आपने वर्डप्रेस का तो एक ही नाम सुना था तो ये दूसरा क्या है| वैसे देखा जाये तो आप दोनों के जरिये ही blog और website को बना सकते है| तो इस पोस्ट के जरिये हम बताएँगे की वर्डप्रेस के ये दो टाइप्स क्या है? और कैसे ये एक दूसरे से अलग है और कौन सा वर्डप्रेस आपके लिए बेहतर है|

वर्डप्रेस के प्रकार हिंदी में – WordPress Types in Hindi –

  • WordPress.com
  • WordPress.org

WordPress.COM :- wordpress.com एक ऐसा प्लेटफार्म है जिसके जरिये आप आसानी से अपना एक personal blog, bussiness website, ecommerce-website आदि आसानी से बना सकते है| साथ ही आपकी ब्लॉग की देख रेख wordpress.com करता है| जिस कारण आपको wordpress.com ब्लॉग में बहुत कम फ्रीडम मिलती है|

wordpress.com में आप free में अपना ब्लॉग बना सकते है| लेकिन इसमें आपको बहुत ही कम फीचर मिलते है जैसे – आपको wordpress.com का subdomain दिया जाता है| (for ex- gizmobs.wordpress.com) साथ ही आप अपने ब्लॉग या वेबसाइट को monitize नहीं कर सकते है| और नहीं कोई third party plugins & themes को use कर सकते है| आप केवल wordpress.com Store की थीम व प्लगइन use कर सकते है|

यदि आप wordpress.com में ही अच्छे फीचर चाहते है तो आपको इसके लिए wordpress dot com की premium services लेनी होंगी ताकि आप commercial या ecommerce website को बना पाए|

WordPress.ORG : wordpress dot org एक stand- alone Content Management System है| जिसे आप self hosted web server में इनस्टॉल कर अपने अनुसार वेबसाइट डिज़ाइन कर सकते है| वर्डप्रेस डॉट ओआरजी  एक open source web cms जो पूरी तरह से फ्री है| लेकिन इसे इनस्टॉल करने के लिए आपके पास self-hosted web server होना बहुत जरुरी है  ताकि आप इस open-source CMS को रन करा सके|

Read More : 

wordpress.org के बहुत से फायदे है| सबसे बड़ा फायदा की आपको इसमें पूरी तरह से फ्रीडम मिलती है| आप wordpress.org को अपने अनुसार चेंज कर सकते है| साथ ही इसमें आप third party plugins & themes को use आसानी से कर सकते है|

wordpress.com vs wordpress.org

वर्डप्रेस की दोनों प्लेटफार्म में केवल hosting का diffrence है| और यही अंतर इतने बहुत से बड़े अंतर ला देता है| wordpress.com को वर्डप्रेस कुछ अपनी पर्सनल होस्टिंग प्रोवाइड करता है जिस कारण यह यूजर को limited features ही provides करता है|

लेकिन वही wordpress.org में आपको self hosting लेनी पड़ती है आप किसी भी होस्टिंग कंपनी की होस्टिंग use कर सकते हो| इसमें आप आपको full freedom मिलती है ताकि आप wordpress के सभी features का उपयोग कर सके|

सेल्फ होस्टेड वर्डप्रेस के फीचर्स की जानकारी आपको नीचे पोस्ट के द्वारा बताई गयी है|

वर्डप्रेस के फीचर क्या क्या है? – WordPress Features in Hindi

WordPress in Hindi के जरिये आपने जाना की वर्डप्रेस क्या होता है? (What is WordPress in Hindi) वर्डप्रेस एक ऐसा कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम है जिसके द्वारा आप हर प्रकार की वेबसाइट या ब्लॉग का निर्माण कर सकते है| वो भी एक आसान यूजर इंटरफ़ेस के द्वारा|  (यहाँ पर हम केवल सेल्फ होस्टेड वर्डप्रेस (Self-Hosted WordPress) की बात कर रहे है) वर्डप्रेस ओपन सोर्स प्लेटफार्म होने के कारण  इसमें इम्प्रूवमेंट करने वाले डेवलपर में कोई कमी नहीं है| साथ ही आपके पास बहुत से थीम्स व प्लगइन उपलब्ध है जिनके द्वारा आप एक यूनिक और अच्छी वेबसाइट या ब्लॉग का निर्माण कुछ ही समय में कर सकते है| आये दिनों वर्डप्रेस के फीचर्स और यूजरस की संख्या बढ़ते जा रही है|

wordpress.org or self hosted wordpress के कुछ विशेष फीचर की जानकारी इस पोस्ट में बताई गयी है-

वर्डप्रेस फीचर्स की जानकारी – Features of WordPress in Hindi

  • Easy User Interface
  • Flexibility
  • User Management
  • Support Many Languages
  • Easy to Install and upgrade WordPress
  • Easily Move Data One Server To Another Server
  • Fully Freedom
  • Easy Theme Management System
  • Easy Plugin Management System
  • Free WordPress Repository
  • Inbuilt Search Engine Optimization Features
  • Community and Support
  • Contribution

1. Easy User Interface : WordPress user interface बहुत ही आसान है कोई भी नया यूजर आसानी से वर्डप्रेस को रन कर सकता है| इसमें आसान नविगशन मेनू दिया  गया है जिसके द्वारा आप आसानी से किसी भी चीज़ को मैनेज कर सकते है|

2. Flexibility : flexibility में वर्डप्रेस सभी CMS (CMS full form – Content Management System) से आगे है इसके जरिये आप किसी भी प्रकार की वेबसाइट जैसे – फोटोब्लॉग, पर्सनल ब्लॉग या वेबसाइट, मैगज़ीन वेबसाइट, न्यूज़ वेबसाइट, गवर्नमेंट वेबसाइट, बिज़नेस वेबसाइट आदि को आसानी से बना कर इंटरनेट में रन करा सकते है| साथ ही आपको बहुत प्रकार की themes व plugins भी मिलते है जिनके जरिये आप अपनी वेबसाइट या ब्लॉग को और भी बेहतर बना सकते है|

3. User Management : WordPress के जरिये आप आसानी से नए यूजर को जोड़ और हटा सकते है| साथ ही इसमें आपको user authorization जैसे फीचर भी मिलते है जिनके जरिये आप Administrator, Editor, Author और Contributor जैसे रोल अपने यूजर को देते है| WordPress में administrator Role वेबसाइट या ब्लॉग को मैनेज करना होता है| WordPress में editor role वेबसाइट या ब्लॉग में कंटेंट पर कार्य करना होता है| author और contributor का वर्डप्रेस वेबसाइट या ब्लॉग में केवल कंटेंट लिखना होता है| वर्डप्रेस हिंदी के जरिये आप सभी यूजर को उसके रोल के अनुसार मैनेज करते है|

 4. Support Many Languages : WordPress में 70 से भी ज्यादा भाषाएँ उपलब्ध है| यदि आप एक वेबसाइट बनाना की सोच रहे है और भाषा उसमे दिक्कत कर रही है तो आप वर्डप्रेस को अपनी भाषा के अनुसार इनस्टॉल कर सकते है| लेकिन वर्डप्रेस की डिफ़ॉल्ट भाषा इंग्लिश (U.S. English) है| साथ ही यदि आप multilingual सपोर्ट वाली वेबसाइट या ब्लॉग बनाना चाह रहे है तो आप वर्डप्रेस में इसे आसानी से कर सकते है| वैसे तो सीधे तौर पर WordPress Multilingual ब्लॉग को सपोर्ट नहीं करता है लेकिन वर्डप्रेस कम्युनिटी ने इसके लिए एक प्लगइन डेवेलोप किया है जिससे आप multilingual Blog or Website WordPress के द्वारा आसानी से बना सकते है|

Read More :

5. Easy to Install and upgrade WordPress : WordPress इनस्टॉल करना बहुत ही आसान है आप अपने सर्वर के c panel से direct एक क्लिक में वर्डप्रेस को इनस्टॉल कर सकते है यदि आपके cpanel में वर्डप्रेस auto-installer नहीं है तो आप WordPress.org से WordPress download कर इसे सीधे अपने c panel में एक्सट्रेक्ट (WordPress zip compressed files के साथ आता है) कर इनस्टॉल कर सकते है|

वर्डप्रेस को अपग्रेड करना और भी आसान (WordPress upgrade method in Hindi) है जब भी WordPress update आएगा तो आपको एक नोटिफिकेशन आपके WordPress dashboard में आजायेगा| आप उसके जरिये केवल एक क्लिक से अपने वर्डप्रेस वर्शन को अपग्रेड कर सकते है| यदि आप मैन्युअल चेक करना चाहते है तो वर्डप्रेस डैशबोर्ड में जाये और नेविगेशन पैनल में से dashboard > updates में जाये यहाँ से आप Check now में क्लिक कर अपडेट चेक कर सकते है| यहाँ आपको WordPress के साथ साथ आपके सभी plugins और themes के भी updates मिल जायेंगे| जिन्हे आप एक क्लिक कर आसानी से update या upgrades कर सकते है|

6. Easily Move Data One Server To Another Server : WordPress के जरिये आप अपने डाटा तो स्थान्तरित कर सकते है यानि की blog data को दूसरे सर्वर के WordPress में Transfer कर सकते है| डाटा ट्रांसफर के लिए वर्डप्रेस में बहुत से प्लगइन उपलब्ध है इनमे से कुछ WordPress data transfer plugin की service free है और कुछ paid service वाले है| बहुत से अच्छे होस्टिंग सर्विस में आपको फ्री बैकअप डाटा टूल मिलता है जिसके जरिये भी आप आसानी से अपने डाटा को ट्रांसफर कर सकते है|

7. Fully Freedom : आपको वर्डप्रेस में पूरी तरह की freedom मिलती है| क्योकि वर्डप्रेस एक open source cms है जिसमे आपको पूरी आजादी मिलती है जिसके अंतर्गत आप अपने अनुसार इसमें changes कर सकते है| साथ ही आप WordPress community में जुड़ कर अपना योगदान भी WordPress में दे सकते है| आप किसी भी Third-Party WordPress plugins, themes या फिर self-created WordPress plugins, themes का उपयोग वर्डप्रेस में कर सकते है|

8. Easy Theme Management System : वर्डप्रेस में आपको थीम मैनेजमेंट के लिए एक अलग से ऑप्शन दिया गया है जिसके द्वारा आप वर्डप्रेस थीम को WordPress Repository के द्वारा इनस्टॉल और चेंज कर सकते है| साथ ही आपको custom या third-party  थीम को भी इनस्टॉल करने का ऑप्शन दिया गया है| ताकि आप किसी third-party डेवलपर के द्वारा थीम को बना कर अपने वर्डप्रेस में इनस्टॉल कर सकते है|

9. Easy Plugin Management System : WordPress में आपको प्लगइन को मैनेज करने के लिए एक plugin management system दिया गया है जिसके द्वारा आप plugins को add, activate, deactivate, delete आदि कर सकते है| plugins install करने के लिए भी आपको wordpress repository दी गयी है आप यहाँ से plugins को search कर wordpress में इनस्टॉल कर सकते है| साथ ही आपको third-party या custom plugins को इनस्टॉल करने का भी ऑप्शन दिया गया है जिसके द्वारा आप आसानी से थर्ड-पार्टी वर्डप्रेस प्लगइन को अपने वर्डप्रेस में आसानी से इनस्टॉल कर सकते है|

10. Inbuilt Search Engine Optimization Features : WordPress SEO की बात करे तो वर्डप्रेस में सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन फीचर पहले से ही इनबिल्ट होते है इसके लिए आपको कोई भी SEO tools की जरुरत नहीं पड़ती है लेकिन यदि आपको अपने seo को और बेहतर करना है तो वर्डप्रेस में इसके लिए भी बहुत से प्लगइन उपलब्ध है| आप किसी भी Free SEO Plugins या paid SEO plugins का उपयोग कर सकते है|

Free SEO plugins में – Rank Maths, All in One SEO

Paid SEO Plugins में – Yoast SEO Tool, All in One SEO

11. Community and Support : WordPress CMS Community और Support के लिए आप वर्डप्रेस सपोर्ट फॉर्म (WordPress Support Form) का उपयोग कर सकते है इसके जरिये आप आसनी से अपनी प्रॉब्लम को वर्डप्रेस सपोर्ट के जरिये सोल्वे कर सकते है| wordpress most-popular cms होने के कारण वर्डप्रेस से रिलेटेड समस्याओ के हल आपको इंटरनेट से भी आसानी से मिल जायेगे| बहुत से TOP WordPress Blogger है जो वर्डप्रेस की प्रॉब्लम और उनके हल के बारे में  बताते है|

12. Contribute : wordpress open source cms होने के कारण इसमें अपना योगदान देने वाले डेवलपर की भी कोई कमी नहीं है| यदि आप भी वर्डप्रेस के साथ जुड़ कर काम करना चाहते है और अपने skill के जरिये वर्डप्रेस को बेहतर बनाना चाहते है तो आप make wordpress के साथ जुड़ कर इसे और बेहतर बनाने में अपना योगदान दे सकते है|

Conclution

आपको इस पोस्ट के जरिये हमने बताया की वर्डप्रेस क्या है? यह इतना पॉपुलर क्यों है? वर्डप्रेस के प्रकार क्या है? wordpress.com और wordpress.org क्या है? इन सभी wordpress in hindi की जानकरी के द्वारा आप समझ गए होंगे की wordpress के ये दोनों प्लेटफार्म के फीचर होते है| साथ ही अब हम आपको बता दे की यदि आप एक ब्लॉग या वेबसाइट बनाना चाहते है ताकि आप उससे कुछ कमाई कर सके तो आपको self-hosted wordpress यानि की wordpress.org प्लेटफार्म को लेना चाहिए यदि आप एक पर्सनल ब्लॉग फ्री में बनाना चाहते है तो आप wordpress.com प्लेटफार्म का उपयोग कर सकते है| लेकिन यदि आप फ्री ब्लॉग कमाई के लिए बनाना चाहते है तो आपको Blogger.com प्लेटफार्म का उपयोग करना चाहिए|

Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *